Poetry.com

1 32 0

DIVINE

Date Written: November 5, 2017
Categories:
 

जब से आसमान में 
तुम दिखे हो मुझे
धरती पर जैसे 
छा गई तुम्हारी
परछाई
~~~"जवाहर उपासक "~~~

Leave a Reply

Image दौड़ते हुए लहू के साथ दौड़ते हुए लहू के साथ ==============दौड़ते  हुए लहू के साथहम भी…
by Jawahar Gupta
1 8 0
Image [ मलिन मुख पर आभा चमकी ] मलिन मुख पर आभा चमकीकिस को खो कर किस को…
by Jawahar Gupta
1 18 0
Image THE UNIQUE FREEDOM THE UNIQUE FREEDOM =================== Love makes the bittersweet AndLove makes the King slave And…
by Jawahar Gupta
1 36 0
Register
Send message